WhatsApp Group Join Now

About Hibiscus flower in hindi | गुड़हल फूल की पूरी जानकारी

About Hibiscus flower in hindi :- जय हिंद दोस्तों, गुड़हल एक धार्मिक फुल होने के साथ-साथ बेहद खूबसूरत एवं औषधिये रूप से परिपूर्ण है। इसकी मौजूदगी पूरी दुनिया में है। भगवान गजानंद जी को गुड़हल फूल अर्पित किया जाता है । गुड़हल फूल का वैज्ञानिक नाम हिबिस्कुस रोसा साइनेंसिस (Hibiscus rosa sinensis) है, जो अपना संबंध मालवेसी (malvaceae) परिवार से रखता है। एक रिपोर्ट के अनुसार गुड़हल फूल की कुल 200 प्रजातियां इस दुनिया में मौजूद है, और इन सब की अपनी अलग-अलग विशेषताएं हैं, जो दिखने में सफेद, नीला एवं लाल रंग के होते हैं।

आज हम अपने इस लेखन प्रणाली में Hibiscus flower in hindi से संबंधित तथ्यों एवं महत्वपूर्ण जानकारियो को आसान भाषा में समझने वाले हैं। जो लोग इस फूल से संबंधित जानकारी जानने के लिए इच्छुक है उनके लिए यह लेख सहायक साबित हो सकता है, तो हमारे साथ अंत तक बन रहे जिससे आपको Hibiscus flower की पूरी जानकारी आसानी से प्राप्त हो सके।

Information of Hibiscus flower in hindi | गुड़हल फूल की पूरी जानकारी 

वृक्ष :- गुड़हल एक झाड़ी नुमा वृक्ष है, जो 5 से 10 फीट (3 से 4 मीटर ) लंबा, जो दिखने में काले रंग का होता है।

पत्ते :- 8 से 10 सेंटीमीटर लंबा एवं 4 से 6 सेंटीमीटर चौड़ा आकार में गोलाकार, जो दिखने में हरे रंग का होता है।

फुल :- गुड़हल फूल आकार में 10 से 15 सेंटीमीटर लंबे होते हैं। फूल के बीच से फूलरंगी लंबी कलकी निकली हुई होती है।
गुड़हल फूल का रंग लाल, गुलाबी, पीला, नीला, सफेद आदि होती हैं।

जीवन काल :- गुड़हल वृक्ष का औसतन जीवनकाल 10 वर्ष होती है। वहीं कुछ प्रजाति के वृक्ष लगभग 60 वर्षों तक जीवित रहती है।

गुड़हल फूल के स्वास्थ्य संबंधित फायदे । Health Benefits of Hibiscus flower in hindi

नाजुक गुड़हल फूल के साथ नारियल तेल के मिश्रण को बालों में लगाने से, बाल पकना, बाल झड़ना, कमजोर बाल जैसी समस्याओं को जड़ से खत्म करता है। इसके कुछ लाभ, बालों की मजबूती, बाल को घना करना, डैंड्रफ जैसी समस्या को दूर करना, बालो को चमकाना, बालो की उम्र बढ़ाना आदि है।

नाजुक गुड़हल फूल के चाय में ग्लूकोज, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, एंटीऑक्सीडेंट की उपस्थिति अधिक होती है, जो पाचन प्रक्रिया को सुदृढ़ बनता है।

जिनको उच्च रक्तचाप की समस्याएं हैं, उनके लिए गुड़हल की चाय काफी मदद करती है रक्तचाप को सामान्य रखने में।

Hibiscus flower

गुड़हल फूल का उपयोग । Use of Hibiscus flower in hindi

  • गुड़हल के फूल में कई औषधीय तत्व पाए जाते हैं जिनका उपयोग दवाई बनाने में किया जाता है।
  • नाजुक गुड़हल फूल को हर्बल चाय बनाया जाता जो स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक होता है इसका स्वाद खट्टा होता है।
  • गुड़हल फूल को पूजा अर्चना के रूप में उपयोग किया जाता है।
  • हिंदू धर्म में गुड़हल फूल को पवित्र माना गया है।
  • मेरी मां प्रत्येक मंगलवार एवं शनिवार को गुड़हल फूल को पूजा अर्चना के रूप में प्रयोग करती है।
  • गुड़हल फूल का सुगंध काफी अच्छी होती है, कई कंपनियां इसका उपयोग इत्र बनाने में करती है।
गुड़हल फूल का हिंदू धर्म में क्या महत्व है।

पौराणिक कथाओं के अनुसार गुड़हल फूल में मां काली का वास होता है। इसीलिए माता काली जी को लाल गुड़हल फूल को चढ़ाया जाता है।

भगवान शिव मंगल को काफी मानते थे, मंगल को गुड़हल का फूल काफी प्रिय लगता था और मंगल का दूसरा रूप भगवान गणेश जी हैं। यही कारण से भगवान गणेश जी को गुड़हल का फूल चढ़ाया जाता है।

गुड़हल फूल को पवित्रता, सौंदर्य, स्वास्थ्य, सम्मान का प्रतीक माना जाता है।

Hibiscus flower

गुड़हल फूल की महत्वपूर्ण प्रजातियां । Important species of Hibiscus flower in hindi

1. Common hibiscus । कॉमन हिबिस्कुस :- यह बगीचे का पसंदीदा फूल है। जो दिखने में सफेद एवं गुलाबी रंग का होता है। इसकी उपस्थिति चीन, मंगोलिया, जापान, भारत, सीरिया, म्यांमार, नेपाल, पाकिस्तान, अफ़गानिस्तान आदि में है।

2. Hibiscus tiliaceus । हिबिस्कुस टाइलियस :- यह उष्णकटिबंधीय क्षेत्र एवं समुद्री तट के किनारे पाया अधिकांश जाता हैं। जो दिखने में पीला एवं सफेद रंग का होता है। इसका मूल निवास स्थान न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया, फ्लोरिडा जैसे देश है।

3. Hibiscus fragilis । हिबिस्कुस फ्रैगिलिस :- यह एक सदाबहार वृक्ष है, जो पहाड़ी क्षेत्र में अधिक पाया जाता है। यह दिखने में लाल एवं गुलाबी रंग का होता है। इसका मूल निवास स्थान मॉरीशस, भारत, म्यांमार, नेपाल है।

4. Hibiscus Scotti । हिबिस्कुस स्कोटी :- गुड़हल फुल की यह प्रजाति शुष्क वातावरण में अधिक पाया जाता है। जो दिखने में पीला एवं गुलाबी रंग का होता है। इसकी उपस्थिति यमन देश है।

5. Shoe black plant । शो ब्लैक प्लांट :- हिबिस्कुस की इसी प्रजाति के फूल, भगवान चढ़ाया को जाता है। यह दिखने में लाल रंग का होता है। इसका मूल निवास स्थान भारत, चीन, नेपाल, म्यांमार, मॉरीशस आदि देश है।

गुड़हल फुल को घर में कैसे तैयार करें।

मिट्टी :- जहां इस फूल के रोपण कार्य को सम्पन्न करेंगे उस जगह के मिट्टी को अच्छे से साफ सफाई कर लेनी है और मिट्टी की ph मान 6 से 8 के बीच होनी चाहिए।

बीज :- अच्छी गुणवत्ता के बीज नर्सरी से प्राप्त कर सकते हैं, जो 50 से 60 रुपए के बीच में उपलब्ध हो जाएगा।

बीज रोपण :- मिट्टी में घरेलू गोबर एवं कंपोस्ट को अच्छी तरह से मिश्रण कर के, तीन से चार सेंटीमीटर मिट्टी के अंदर बीज को लगा देनी है।

देखभाल

पानी :- बीज रोपण के एक दिन पश्चात ही पानी डालनी है। इसके बाद आप नियमित रूप से पानी दे सकते हैं। अधिक मात्रा में पानी का छिड़काव नहीं करना है अन्यथा बीज सड़ भी सकता है।

धूप :- गुड़हल के पौधे धूप के आदी होते हैं इसलिए कम से कम 4 से 5 घंटे धूप पौधे में पड़ने देनी है।

तापमान :- गुड़हल पौधे के विकास के लिए उपयुक्त तापमान 20 से 25 डिग्री सेल्सियस के बीच होनी चाहिए।

पौधे में होने वाले कुछ सामान्य रोग एवं उसका उपचार

खस्ता फफूंदी :- यह पौधे में होने वाली एक सामान्य बीमारी है, जो पत्तों को प्रभावित करता है जिसके कारण पौधे के विकास में कमी आती है।

उपचार
पौधे के आसपास अच्छे से साफ सफाई रखनी है। इसके बावजूद भी ठीक नहीं हो रहा है तो आप बीज भंडार से दवा ले सकते हैं।

10 ऐसे प्रश्न जो गुड़हल फूल से संबंधित पूछे जाते हैं।

1. गुड़हल फूल को हिंदू धर्म में क्या महत्व है?
Ans गुड़हल फूल को माता काली एवं भगवान गणेश को पूजा जाता है।

2. क्या गुड़हल फूल को घर में लगाया जा सकता है?
Ans जी हां, ऊपर दिए गए उपाय के सहयोग से आप लगा सकते हैं।

3. क्या गुड़हल फूल में तितलियां और भंवरे बैठते हैं?
Ans जी हां

4. गुड़हल फूल की उपस्थिति कहां-कहां है?
Ans वैसे तो इसकी उपस्थिति पूरे विश्व में है लेकिन भारत एवं नेपाल में इसकी महत्वता अधिक है।

5. गुड़हल फूल किस-किस देश का राष्ट्रीय फूल है?
Ans दक्षिण कोरिया एवं मलेशिया का राष्ट्रीय पुष्प है।

6. गुड़हल फूल को किसका प्रतीक माना जाता है?
Ans सच्चाई, सादगी, स्वास्थ्य, सामान्य, सुदृढ़ता आदि का प्रतीक माना जाता है।

7. गुड़हल फूल का संबंध किस परिवार से है?
Ans मालवेसी

8. पूरी दुनिया में गुड़हल फूल की कुल कितनी प्रजातियां मौजूद है?
Ans 200

9. गुड़हल फूल अधिकांश किस क्षेत्र में पाया जाता है?
Ans शुष्क उष्णकटिबंधीय एवं सदाबहार वन में अधिक पाई जाती हैं।

10. भारत के कौन-कौन से राज्य में गुड़हल फूल पाया जाता है?
Ans झारखंड, पश्चिम बंगाल, बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक आदि सभी राज्यों में पाई जाती है।

दोस्तों मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा लेख Hibiscus flower in hindi बेहद पसंद आया होगा तो आप अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। अगर हमसे किसी प्रकार की जानकारी छूट गई है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं।

जाने कैसा होता है केतकी का फूल

गुलबहार का फूल की जानकारी

Leave a Comment