WhatsApp Group Join Now

About information of Orange fruit in hindi । संतरा फल की संपूर्ण जानकारी

Orange fruit in hindi :- जय हिंद दोस्तों, आज के आधुनिक युग में जिस तरह लोगों में बीमारियां बढ़ती जा रही है, जिससे लोगो में यह घबराहट बनी हुई है कि हम स्वस्थ कैसे रहे। आज इसी कड़ी में हम संतरे फल के बारे में जानेंगे, जिसके सेवन आप स्वस्थ रहने में कामयाब होंगे। संतरा एक उच्च गुणवत्ता की फल है जिसके मध्य भाग का सेवन किया जाता है, जिसमें कई तरह के पोषक तत्व एवं विटामिन पाए जाते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से काफी लाभदायक होता है। संतरा जिसे नारंगी नाम से जाना जाता है इसका वैज्ञानिक नाम सिट्रस एक्स साइनेंसिस (citrus x sinensis) है। संतरा रूटेसि (Rutaceae) परिवार से संबंध रखता है। संपूर्ण विश्व में संतरा फल की कुल 400 प्रजातियां पाई जाती है जिनमें से अधिकांश प्रजातियां ब्राज़ील नामक देश में पाई जाती है।
आज हम अपनी लेखन Orange fruit in hindi में, Orange fruit से संबंधित जानकारियो को बेहद आसान भाषा में आपके समक्ष रखने का प्रयास करेंगे, ताकि आपको Orange fruit की पूरी जानकारी प्राप्त हो सकेगी। हमारी लेख उन लोगों के लिए मददगार हो सकती है, जो Orange fruit के बारे मे जानना चाहते हैं।

About information of Orange fruit in hindi । संतरा फल की संपूर्ण जानकारी

वृक्ष :- संतरे का वृक्ष 15 से 65 फुट (5 से 20 मीटर) तक लंबी होती है इसके वृक्ष उष्णकटिबंधीय क्षेत्रो में देखी जाती हैं, जो दिखने में भूरे रंग की होती है।

पत्ते :- संतरा वृक्ष के पत्ते 10 से 15 सेंटीमीटर (2 से 5 इंच) तक लंबे एवं अंडाकार आकर का होता है जो दिखने में हरे रंग का होता है।

फल :- संतरे का फल गोलाकार एवं अंडाकार होता है जो दिखने में नारंगी रंग का होता है।

जीवनकाल :- संतरे का वृक्ष लगभग 70 से 120 वर्षों तक जीवित रहता है। वही संतरे के ताजा फल को एक महीने तक जीवित रख सकते हैं।

निवास स्थान :- संपूर्ण विश्व में सबसे अधिक संतरे फल का उत्पादन ब्राज़ील करता है, इसलिए हम संतरे फल का मूल निवास स्थान ब्राजील को मानते हैं।

पोषक तत्व एवं विटामिन :- कैल्शियम, कैलोरी, सोडियम, प्रोटीन, फाइबर, शुगर, मैग्नीशियम, आयरन, पोटेशियम, विटामिन सी, विटामिन डी जैसे आनेको पोषक तत्व की मौजूदगी है।

Benefits of Orange fruit in hindi | संतरे फल से होने वाले फायदे

1. नियमित रूप से संतरा के सेवन से शारीरिक विकास तेजी से होता है।

2. संतरे में ऐसे एंटीऑक्सीडेंट मौजूद है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता वृद्धि करने में काफी सहायता करते हैं।

3. संतरा में पोटैशियम, मैग्निशियम, फाइबर, कैल्शियम, कैलोरी, सोडियम, विटामिन डी जैसे तत्वों की मौजूदगी है जो वीर्य को गाढ़ा करने में काफी सहायता करते है जिससे मर्दाना ताकत में वृद्धि होती है।

4. संतरे में उपस्थित पोषक तत्व एवं एंटीऑक्सीडेंट शरीर को फुर्तीला बनाने में सहायता करता है, इसलिए धावक संतरे का जूस को पीना पसंद करते हैं।

5. इसमें उपस्थित विटामिन डी एवं विटामिन सी प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करती है जिससे खांसी, बुखार होने की संभावना बहुत कम होती है।

6. नियमित रूप से संतरे के सेवन से पेट दर्द, यह पेट से जुड़ी अन्य समस्या से निजात दिलाता हैं।

7. संतरे में कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है, जो हड्डियों को मजबूत बनाती है।

8. संतरे में एंटीफंगल गुण होता हैं, जो वायरस के प्रभाव को कम करता है।

9. हृदय संबंधित समस्या को दूर करता है।

10. पेशाब के दौरान आने वाले पीलापन को जड़ से समाप्त करता है।

Orange fruit

संतरे से होने वाले नुकसान। Harm of Orange fruit in hindi

1. अत्यधिक संतरे के सेवन से पेट संबंधित समस्या उत्पन्न हो सकती है।

2. रात्रि के दौरान संतरे के सेवन से बचना है, नही तो अनिद्रा की समस्या हो सकती है।

3. संतरे के छिलके को पूरी तरह से उतार खानी है नही तो उल्टी आने की संभावना रहती है।

Species of Orange fruit in hindi । संतरे फल की प्रजातियां

1. Navel orange । नावेल ऑरेंज :- नावेल ऑरेंज की खेती सबसे पहले ब्राज़ील में 1800वी शताब्दी के शुरुआत में की गई थी। और 1800 वी सदी के अंत तक पूरे विश्व में फैल गई, संतरे की फल खाने में काफी स्वादिष्ट होती हैं।

2. Blood orange । ब्लड ऑरेंज :- ब्लड ऑरेंज फल का आंतरिक भाग लाल रंग का होता है, जो इसे एक अलग पहचान देती है, इसको शुरुआती दौर में इटली में देखा गया था

3. Cara Cara navel । कारा कारा नावेल :- ऑरेंज की सबसे नवीन प्रजाति है, जिसको वेनेजुएला नामक देश में खोजा गया है।

4. Jaffa orange । जफ्फा ऑरेंज :- यह अरबिये देशों में पाए जाने वाला संतरा है, जिसकी खेती सन् 1910 से शुरू की गई थी अन्य संतरे की तुलना में यह काफी बड़ी होती है।

5. Valencia orange । वेलेंसिया ऑरेंज :- यह संयुक्त राज्य अमेरिका का मूल निवासी है, जिसकी खेती 19वीं सदी के शुरूवात में गई थी।

कुछ ऐसे प्रश्न जो Orange fruit से संबंधित पूछी जाती हैं।

1. संतरे को कैसे खाएं?
Ans संतरे के छिलके काफी मोटे एवं लचीले होते हैं, इसलिए इसको सावधानी से निकालकर स्वच्छ पानी में धोकर सेवन करें ताकि आपको इससे होने वाले फायदे पूर्ण रूप से प्राप्त हो सके।

2. संतरे को कब खानी चाहिए?
Ans आप संतरे को खाना खाने के 30 मिनट पश्चात सेवन कर सकते हैं।

3. संतरे का जूस कैसा होता है?
Ans संतरे के जूस में अधिक मात्रा में पोषक तत्व एवं विटामिन की मौजूदगी होती है, जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद हो साबित होता है।

4. भारत में संतरे का उत्पादन किस राज्य में किया जाता है?
Ans महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु जैसे राज्यों में इसकी खेती की जाती है।

5. गर्भवती महिलाएं संतरे को खा सकती है?
Ans संतरा गर्भवती महिलाओं के लिए काफी लाभदायक होता है जो गर्भ में पल रहे बच्चे को स्वस्थ रखने में सहायता करता है, इसलिए गर्भवती महिलाओं को संतरे का सेवन करना चाहिए।

6. 1 दिन में कितने संतरे खाने चाहिए?
Ans अगर आप एक स्वस्थ मनुष्य हैं, तो आप 1 दिन में 1 से 2 संतरे का सेवन कर सकते हैं।

7. क्या हम एक दिन में 5 से 10 संतरे खा सकते हैं?
Ans ऐसा बिल्कुल नहीं करना है अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको पेट खराब, उल्टी, चक्कर आना, जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती है।

8. पूरे विश्व में सबसे अधिक संतरे की खेती किस देश में की जाती है?
Ans ब्राजील में, इसलिए हम इसका मूल निवास स्थान ब्राजील को मानते हैं।

9. क्या हम प्रतिदिन संतरे का सेवन कर सकते हैं?
Ans अगर आप एक धावक है तो आप प्रतिदिन इसका सेवन कर सकते हैं। अन्यथा आप एक दिन छोड़ के सेवन करे जो आपके लिए फायदे मंद होगा।

10. संतरे में कौन-कौन सा विटामिन एवं पोषक तत्व पाए जाते हैं?
Ans मैग्नीशियम, पोटेशियम, कैल्शियम, प्रोटीन, आयरन, विटामिन डी, विटामिन सी जैसे तत्व की उपस्थिति अधिकांश है।

निष्कर्ष
दोस्तों मुझे पूरा यकीन है, की आपको हमारा लेख Orange fruit in hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो गई होगी दोस्तों हमारे लिए आपको पसंद आई होगी तो आप अपने दोस्तों एवं रिश्तेदारों के साथ शेयर जरूर करें ताकि उन लोगों को भी यह जानकारी प्राप्त हो सके और हमारे वेबसाइट को फॉलो कर करे ताकि ऐसे ही और महत्वपूर्ण जानकारी आप आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

इन्हें भी पढ़ें
चैरी फल की पूरी जानकारी यहां से प्राप्त करें

Leave a Comment