WhatsApp Group Join Now

Peony flower in hindi | पियोनिया फूल की पूरी जानकारी

Peony flower in hindi :- जय हिंद दोस्तों, हमारे भारत देश के घरों में सबसे अधिक जिस फूल लगाया जाता है वह पियोनिया का फूल है। पियोनिया फूल को घर में लगाने से घर में किसी तरह के अनहोनी घटना नहीं घटती है। और घर की रौनक बढ़ाने में काफी सहायता करता है। पियोनिया फूल का वैज्ञानिक नाम पियोनिया (paeonia) है जो अपना संबंध पियोनियासी (paeoniaceae) परिवार से रखता है। पियोनिया फूल की कुल 40 प्रजातियां है लेकिन वर्तमान समय में 33 प्रजातियां जीवित है जो अमेरिका, एशिया एवं यूरोपीय देश में इसकी निवास है। जो दिखने में पीला, लाल, गुलाबी, सफेद, बैंगनी जैसे रंगों में होती है।

आज हम अपनी लेखन Peony flower in hindi के माध्यम से आप लोगों के समक्ष इस फूल से संबंधित जितने प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी एवं प्रश्न और बगीचे में इसके पौधे को कैसे लगे, पियोनिया फूल से होने वाले स्वास्थ्य लाभ हानि, हिंदू धर्म में इसका महत्व, जैसे अनेकों जानकारी आपके साथ साझा करने की एक छोटी सी कोशिश करेंगे। जिससे आप लोग को इस लेख Peony flower से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। हमारी लेख उन सभी लोगों को सहायता पहुंचा सकती है जो Peony flower के बारे में जानना चाहते हैं।

Information of Peony flower in hindi । पियोनिया फूल की पूरी जानकारी

पौधा :- पियोनिया का पौधा 10 से 30 इंच (1 से 3 फूट) लंबी होती हैं। पौधा दिखने में भूरे रंग का होता है।

पत्ते :- पियोनिया के पत्ते 40 से 60 सेंटीमीटर (15 से 20 इंच) तक लंबी वा 5 से 10 सेंटीमीटर तक चौड़ी और दिखने में हरे रंग की होती हैं। पियोनिया के पत्ते शंकु आकार के होते हैं।

फूल :- पियोनिया के फूल 10 से 20 सेंटीमीटर (4 से 8 इंच) लंबी एवं चौड़ी होती हैं। जब पियोनिया फूल का आगमन होना शुरू होता है तब इसका रंग हल्का लाल होता है और जैसे जैसे फूल बड़ा होने लगता है तो फूल का रंग गुलाबी में तब्दील हो जाता है। पियोनिया फूल का रंग सफेद, पीला, लाल, गुलाबी एवं बैंगनी होती है।

जीवन काल :- पियोनिया फूल के पौधे का औसतन जीवनकाल 10 से 15 वर्ष के मध्य होता है, वहीं कुछ प्रजातियां 20 वर्ष तक जीवित रहते हैं। पियोनिया फूल 5 से 10 दिनों तक जीवित रहते हैं।

निवास स्थान :- यह एक बारहमासी पौधा है इसकी उपस्थिति उष्णकटिबंधीय एवं शीतोष्ण वन में है। इसका मूल निवास स्थान दक्षिणी अमेरिका, उत्तरी अमेरिका, यूरोपीय देश, अफ्रीकी देश एवं एशियाई देश है।

Use of Peony flower in hindi । पियोनिया फूल का उपयोग

  • हिंदू धर्म में इस फूल का प्रयोग पूजा में किया जाता है।
  • पियोनिया फूल में एक अनोखे तरह की सुगंध आती है जिसका उपयोग इत्र बनाने में किया जाता है।
  • सजावटी सामग्री में इसका उपयोग किया जाता है। हालांकि इस फूल का उपयोग बहुत कम होता है।
  • पियोनिया फूल में कई तरह के औषधीय तत्व पाए जाते हैं। जिसका उपयोग दवाई बनाने में किया जाता है।
  • कई प्रेमी अपने प्रेमिका को उपहार के रूप में पियोनिया फूल देते हैं।

Peony flower

पियोनिया फूल से होने वाले स्वास्थ्य लाभ। Health Benefits of Peony flower in hindi

  • पियोनिया फूल में विटामिन k की मौजूदगी होती है जिसकी वजह से जल्दी रक्त के थक्का बनने में सहायता करता है।
  • पियोनिया में ऐसे एंटीऑक्सीडेंट की उपस्थिति है जो सुजन छोटे मोटे घाव को जल्दी भरने में काफी सहायता करता है।
  • कमर दर्द, पैर दर्द एवं घुटने का दर्द से राहत पाने के लिए आप
    पियोनिया फूल का उपयोग कर सकते हैं।
  • पियोनिया का फूल त्वचा में होने वाले फोड़े, फुंसी जैसी सामान्य समस्या से निजात दिलाता है और साथ ही त्वचा को निखारने का काम करता है।
पियोनिया फूल की प्रजातियां । Species of Peony flower in hindi

1. Paeonia peregrina । पियोनिया पैरिग्रिना :- यह एक सदाबहारिये पौधा है जिसके फूल बसंत ऋतु में खिलते हैं। पियोनिया पैरिग्रिना प्रजाति की यह फूल दिखने में लाल एवं पीले रंग की होती है। इसकी उपस्थिति यूरोपीय देशों में है।

2. Paeonia tenuifolia । पियोनिया टेनुफोलिया :- पियोनिया फूल की प्रजातियो में सबसे अधिक इसी प्रजाति में औषधीय गुण मौजूद हैं। यह दिखने में गुलाबी रंग की होती हैं। इसका मूल निवास स्थान उत्तरी एवं दक्षिणी अमेरिका है।

3. Delavay’s tree peony । डेलावे ट्री पीयोनी :- इसका दूसरा नाम चाइनीज पियोनिया है जो दिखने में भूरे गुलाबी रंग पीले रंग का हैं होता है। इसका निवास स्थान चीन ही है।

4. Common peony । कॉमन पियोनिया :- घर के बगीचे में अधिकांश इसी प्रजाति के फूल का प्रयोग किया जाता है, जो बगीचे का शोभा बढ़ाने का कार्य करता है। यह दिखने में गुलाबी रंग का होता है, इसका मूल निवास स्थान भारत, अमेरिका, इटली, फ्रांस जैसे देश है।

पियोनिया फूल को हम अपने घर पर कैसे लगा सकते हैं।

बेहद आसान विधि से आप अपने घर में इस फूल को लगा सकते हैं बस कुछ नियमों का पालन करना है, जो नीचे दी गई है।

इसके पौधे काफी लंबे होते हैं इसलिए इसको गमले में लगाना काफी मुश्किल होती है अगर आप इसको बगीचे में लगाते हैं तो आपके लिए अच्छा रहेगा।

पौधा तैयार करने की विधि

पियोनिया को 2 तरीके से लगा सकते हैं
पहला विधि कलमी द्वारा
दूसरी विधि बीज द्वारा
आप इन दोनों में से किसी तरह से भी पौधा लगा रहे हैं तो उसके लिए विधि सम्मान ही है।

मिट्टी तैयार करने की विधि
पियोनिया का पौधा किसी भी मिट्टी में तैयार हो सकता है। लेकिन इसके लिए उपयुक्त बलुवायी मिट्टी मानी जाती है।

पौधा रोपण के लिए उपयुक्त मौसम कौन सा होता है
जैसे ही वर्षा ऋतु समाप्त होती है उसके पश्चात ही आप इसके पौधे का रोपन कर सकते हैं।

बीज एवं कलमी रोपण
मिट्टी के साथ अच्छी तरह से वर्मी कंपोस्ट एवं घरेलू गोबर को मिश्रण करना है और बीज एवं कलमी को रोप देनी है। रोपन के पश्चात अल्प मात्रा में पानी का छिड़काव करनी है।

पियोनिया मात्र एक फूल का पौधा जिसमे बहुत कम रोग लगते है, इसलिए पौधा विकसित होने में किसी तरह की समस्या नहीं होती है। और बहुत कम देखभाल में पौधा विकसित हो जाता है।

कुछ ऐसे महत्वपूर्ण प्रश्न जो अक्सर पियोनिया फूल से संबंधित पूछी जाती है।

1. हिंदू धर्म में पियोनिया फूल की क्या महत्व है?
Ans पूजा के रूप में इस फूल का प्रयोग किया जाता है।

2. घर पर पियोनिया फूल लगाने से क्या माना जाता है?
Ans हिंदू धर्म के अनुसार घर के पश्चिम ओर इसके पौधे को लगाने से घर में किसी तरह की लड़ाई झगड़ा नहीं होते हैं। किसी के विवाह में अर्चन आ रही है तो वह समस्या भी हाल हो जाता है।

3. पियोनिया फूल क्या कह कर पुकारा जाता है?
Ans फूलों की रानी

4. पियोनिया फूल किसका प्रतीक हैं?
Ans सच्चाई, सौंदर्य, प्रेम, समृद्धि, सुंदरता, सुगंध, चमत्कार का प्रतीक है।

5. भारत के किन-किन राज्यों में पियोनिया फूल की उपस्थिती है?
Ans झारखंड, बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, असम, तमिलनाडु, तेलंगना, कर्नाटक, केरल, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, आदि राज्यों में मौजूद हैं।

Watch Hindi Sexy Video HD

दोस्तों मुझे पूरा यकीन है कि आपको हमारा लेख Peony flower in hindi से पूरी जानकारी प्राप्त हो गई होगी अगर हमसे किसी प्रकार की जानकारी छूट गई है तो आप हमें कमेंट करके अवश्य बताएं। दोस्तों अगर हमारी लेख आपको अच्छी लगी होगी तो आप अपने नजदीकी रिश्तेदार एवं दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। और ऐसे ही महत्वपूर्ण जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट को फॉलो कर सकते हैं।

ग्लेडियोलस फूल की पूरी जानकारी

पिनव्हील फूल की संपूर्ण जानकारी

Leave a Comment